ताजा सामाचार

आप यहाँ है :

डॉ. कविता वाचक्नवी
 

  • दुनिया भर के हिन्दी प्रेमियों के लिए “सार्थक” का ऑनलाईन प्रकाशन

    दुनिया भर के हिन्दी प्रेमियों के लिए “सार्थक” का ऑनलाईन प्रकाशन

    समाज में निरन्तर बढ़ती असम्वेदनशीलता, वैचारिक दिशाहीनता, हिन्दी के पाठकवर्ग और भाषा-प्रश्नों के मध्य उत्पन्न हुई असंलग्नता किसी भी सामाजिक रूप से जागरूक व्यक्ति को चिन्तित करने के लिए पर्याप्त है। इन चिन्ताओं को ध्यान में रखते हुए भाषा, साहित्य व वैचारिकता के कार्यों को गति देने के प्रयासों, ...

Back to Top